How to do cashless transaction suggested by Narendra modiji in Maan ke Baat (एक कैशलेस सोसाइटी का निर्माण)

आज मैंने माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदीजी की "मन की बात" सुनी जिसमे उन्होते कैशलेस सोसाइटी बनाने का आग्रह किया. और खास करके युवाओ से दरख्वास्त की के वो लोगो को सिखाये की कैशलेस व्यवहार कैसे करे. मैंने सोचा की क्यों न मैं भी इसका भागीदार बनु. देखिये अगर मेरे समाज का भला हो रहा हो तो मैं वो हर चीज़ करूँगा जिससे मेरी इंजीनरिंग का  मेरे लोगो को फायदा हो. वैसे तो ये मैं पिछले ८ वर्षो से कर रहा हूँ. पर आज सही मौका हैं मेरी इंजीनियरिंग को मेरे लोगो के लिए इस्तेमाल करने का. तो चलिए देखे सुरक्षित कैशलेस या ऑनलाइन व्यवहार कैसे करे.

१. आपके कार्ड से पेट्रोल कैसे भरे.

अगर आपके पास एटीएम (ATM ) कार्ड हैं.  और वो किसी भी बैंक का हो. आप पेट्रोल पंप जाये और उसे कहे की कार्ड से पेट्रोल भरना हैं. और कितने का भरना हैं बताये. पेट्रोल पंप कर्मचारी आपसे कार्ड मागेगा और एक मशीन में उसे इस्तेमाल करेगा और आपको आपका पिन(PIN) डालने को कहेगा।  याद रखे आपको खुद वो पिन डालना हैं न की उसे डालने के लिए कहना हैं. बस हो गया आपका काम। मशीन से २ बिल निकलेंगे एक पर आपको साइन करके उस कर्मचारी को देना हैं. और एक खुद रखना हैं. हो गया आपका पहला कैशलेस व्यवहार। हैं न आसान। आपको एक बात याद रखनी हैं की अपना ATM पिन हर ३ महीने बाद बदल ले.आपकी सुरक्षा आपके हाथ।

२. किराने की दुकान में पैसे कैसे दे.

ये प्रश्न थोड़ा अजीब हैं पर हममे से कितने लोग ऐसे हैं जिनके किराने की दुकान सालो साल से एक ही होती हैं। कई बार तो वो हमारे काफी करीबी लोग होते हैं आपको खाली उनका अकाउंट नंबर पूछना हैं और उनका नाम पूछना हैं। हाँ एक और चीज आपको लगती हैं और वो हैं IFSC  कोड। ये वो कोड हैं जो बैंक का यूनिक कोड होता हैं एक ऐसा कोड जिससे बैंक को पहचान मिलती हैं. इस जानकारी को आप लिख ले क्योंकि हर महीने आपको पैसे देने के लिए इसकी जरुरत पढ़ेगी. और आप अपने पैसो का भुगतान घर बैठे बैठे कर सकेंगे।
तो आपको करना क्या होगा।
अगर आपके पास एक स्मार्ट फ़ोन हैं. तो उसमे दो चीजे  आपको करनी होगी.
१. सबसे पहले आपको आपके बैंक से आपका नेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग सुरु करवानी होगी. एक एप्लिकेशन या अर्ज देकर आप ये काम करवा सकते हैं. एक बार आपका नेटबैंकिंग सुरु हो गया तो दूसरी चीज आपको करनी हैं वो ऐसे की जिन लोगो को आपको हर महीने पैसे देने होते हैं जैसे की दूधवाला , किराना दुकानदार, कामवाली बाईं , केबल वाला , और ऐसा है व्यक्ति जिसे आपको पैसे देने हैं. उनसे आप उनका अकाउंट नंबर , नाम ,बैंक की ब्रांच और IFSC  कोड पूछे और लिखले।
२. अब आपकी जो भी बैंक हैं उसका मोबाइल ऍप इनस्टॉल करे।  इनस्टॉल करते समय एक बात ध्यान दे जब आप मोबाइल ऍप इनस्टॉल करे उस मोबाइल aap के निचे आपकी बैंक का नाम लिखा हो. नकली ऍप से बचे.
३. अब आपकी एप  में आपका यूजरनेम और पासवर्ड डाले और खोले आपको वहां बैंकिंग (banking) ये ऑप्शन दिखेगा उसपे क्लिक करे. अगर पैसो का भुगतान ५००० रुपयो से कम का हैं तो क्विक ट्रांसफर  पे क्लिक यहाँ आपको तीन ऑप्शन दिखेंगे १. सेंड मनी  २. रिसीविंग मनी
४. सेंड मनी पर क्लिक करे यहाँ उसिंग अकाउंट डिटेल्स पर क्लिक करे. और जिस व्यक्ति को पैसे भेजने हैं उसकी डिटेल्स डाले. Name में उस व्यक्ति का पासबुक में जैसा नाम हैं वैसे ही डाले. बहुत बार हमें IFSC नंबर नहीं पता होता. इसके लिए एक एप इनस्टॉल करे. जो सारे  देश के सभी बैंक के IFSC कोड आपको देता हैं. एप का नाम हैं IFSC  CODE  इस app  में आपको कुछ टाइप नहीं करना हैं सिर्फ लिट् में से सेलेक्ट करना है.जैसे ही आप लिस्ट में से बैंक का कोड हासिल करले हो गया , अब उस सारी डिटेल्स को बैंक की एप में डाले और कंफर्म करे और जैसे ही आप submit (सबमिट) पर क्लिक करते हैं पैसे ट्रांसफर हो जायेंगे।  बहुत बार सामने वाले व्यक्ति को तुरंत sms  नहीं आता पैसो के ट्रांसफर का. पर डरे नहीं आपके मोबाइल एप में transaction successful का मैसेज आता हैं और साथ ही ट्रांजक्शन का नंबर भी आता हैं जिससे पुस्टि हो जाती हैं की पैसो का ट्रांसफर हो गया हैं.
 

मेरे पास एंड्राइड या स्मार्ट फ़ोन नहीं हैं.

कोई बात नहीं अगर आपके पास कोई स्मार्ट फ़ोन नहीं हैं तो. क्या आपके पास एक साधा फ़ोन हैं. अगर आपका जवाब हां हैं तो आप कर सकते हैं कैशलेस ट्रांसक्शन
एक साधे फ़ोन से मैं क्या क्या कर सकता हूँ.
१. खाते में मौजूद बैलेंस पता कर सकते हैं.
२. मिनी स्टेटमेंट निकाल सकते हैं.
३. पैसे ट्रांसफर कर सकते हो. MMID  के द्वारा
४. पैसे ट्रांसफर कर सकते हो. IFSC   के द्वारा
५.  MMID  की पुनः प्राप्ति कर सकते हैं
६. आपका MPIN बदल सकते हैं
७. आपके ऑनलाइन खरिद्दारी के लिए OTP  जेनेरेट कर सकते हैं.
इतनी सारी चीजे वो भी साधे मोबाइल फ़ोन पर। वाह क्या बात हैं.
इस सुविधा का लाभ लेने के लिए मुझे क्या करना होगा ?
इस सुविधा को कहते हैं NUUP  जिसके तहद आपको सबसे पहले आपका मोबाइल नंबर  बैंक के साथ रजिस्टर करना होगा. एकबार रजिस्टर हो जाये फिर जिंदगी आसान हो गयी समझो।
रजिस्ट्रेशन करने के तरीके (SBI खाता धारको के लिए ).
१. सबसे पहले अपने मोबाइल फ़ोन पर SMS टाइप करे  "MBSREG" और उसे भेजे 9223440000 पर. आपको sms मिलेगा जिसमे आपका यूजर नेम और पासवर्ड होगा।
२. अब आपके फ़ोन से *९९# डायल करे और change MPIN का ऑप्शन प्रयोग करे. और आपका खुदका पासवर्ड डेल जो सिर्फ आपको पता हो.
३. अब आपके नजदीकी ATM में जाये (आपके बैंक का ATM ) और ATM में अपना कार्ड डाले स्क्रीन पर आपको mobile registration का ऑप्शन दिखेगा उसे क्लिक करे और अपना ATM का पिन डाले
४. अब Mobile Banking सेलेक्ट करे और registration के ऑप्शन पर क्लिक करे और अपना मोबाइल नंबर डाले जिस नंबर पर आपने NUUP MPIN जेनेरेट किया था. और YES ऑप्शन पर क्लिक करे. आपका मोबाइल नंबर स्क्रीन पर दिखेगा। अगर सही हो तो कन्फर्म करे.  एक sms आएगा बस हो गया आपका रजिस्ट्रेशन.
अब आप अपने मोबाइल से अपने खाते में जमा बकाया  देख सकते हैं और उसका विवरण भी देख सकते हैं.
nuup की ये सुविधा भारत के सभी बैंको के लिए उपलब्ध हैं.

अच्छा लगे तो और भी लोगो को वेबसाइट की लिंक शेयर करे ताकि और लोगो को ये जानकारी पहुच सके. मेरे अगले ब्लॉग में और भी जानकारी होगी जैसे दुकानदार बिना कार्ड मशीन के पैसे कैसे एक्सेप्ट कर सकते हैं   प्रधान मंत्रीजी ने युवाओ से अपील की हैं की वो लोगो को टेक्नोलॉजी से अवगत कराये. दोस्तों ज्यादा से ज्यादा शेयर करे. 

दी हुयी सारी  जानकारी बैंक और गवर्नमेंट की वेबसाइट से ली गयी हैं. फिर भी आप जानकारी की पुष्टि करले. ये जानकारी आपके काम को सरल बनाने के लिए हैं.