लैपटॉप लेने से पहले क्या आप ये जानते थे ? (how to buy the laptop)

एक कंप्यूटर एक्सपर्ट होने के नाते मुझे अक्सर लोग सलाह मांगते हैं, जब उन्हें कोई नया कंप्यूटर या लैपटॉप लेना होता हैं. और कई बार तो मुझे ये बताया जाता हैं की दोस्त मैंने फलाना फलाना लैपटॉप लिया हैं देख तो जरा. और मेरे पूछे जाने पर की ये लेने के पहले अपने क्या क्या सोचा था ? तो जवाब होता हैं, अरे इसका विज्ञापन तो फलाना हीरो करता हैं और दिखने में भी अच्छा हैं ये लैपटॉप।  पर जब बात टेक्नोलॉजी की होती हैं तब दिखावे पर ना जाये , और सोचे की हम क्या ले रहे हैं और अगले कितने सालो तक ये चीज टिकेगी, जब मैं बात टिकाऊ होने की करता हु तो वह मजबूती की नहीं। मैं उसकी चीज के उपयोगिता की हैं।


Intel  कंपनी के सह-संस्थापक(Co-Founder)  Gordon E. Moore के सिद्धांत(Moore’s law) नुसार टेक्नोलॉजी हर दूसरे साल मौजूदा टेक्नोलॉजी से दुगुनी हो जाती हैं, इस रफ़्तार को कायम रखने के लिए जरुरी नहीं की आप सबसे महंगा लैपटॉप ही ख़रीदे। मैं आपको बताऊंगा की एक अच्छा लैपटॉप कैसे ख़रीदे


लैपटॉप या कंप्यूटर लेते समय कुछ काम की बाते जो आपको पता होनी चाहिए
१. प्रोसेसर (processor)
२. रैम (ram)
३. कैश मेमोरी (cache memory)
४. मदर बोर्ड (mother-board)
५. बैटरी (battery)
६.ग्राफ़िक कार्ड (graphics card)
७.हार्ड डिस्क (hard disk)
८.स्क्रीन (Screen )
९.डिस्क ड्राइव (CD / DVD )
१०. सलाह (advice)
११.वजन (weight)
laptop

इनमे सबमे मुख्य हैं पहली बाते  जो आपके लैपटॉप की क्वालिटी निर्धारित करती हैं और आपका लैपटॉप इन पहले चीजों से निखरता हैं मगर इनकी उपयोगिता क्या हैं सक्षिप्त में जानते हैं
१. प्रोसेसर : प्रोसेसर मान लीजिए आपके लैपटॉप का दिल हैं और ये जितना मजबूत रहेगा उतना ही अच्छा हैं आजकल प्रोसेसर की गिनती कोर में होने लगी हैं.
जैसे : २ कोर , ४ कोर , ८ कोर और १२ कोर
अगर आप ड्यूल कोर लेते हैं तो आपके लैपटॉप में २ कोर वाला प्रोसेसर होगा और जितने ज्यादा कोर आप बढ़ाएंगे उतना अच्छा हैं अगर वो आपके बजट में हैं तो। फ़िलहाल ४ कोर और उससे अधिक प्रचलन में हैं। लैपटॉप लेते समय आप पूछिए की इसमें कितने कोर हैं

laptop processor


अगर प्रोसेसर Intel i3 हैं तब उसमे २ कोर होंगे वैसे ही अगर intel i5 हैं तो २ या ४ कोर  intel i7  हैं तो ४ या ६ या ८ कोर होते हैं. सबसे ज्यादा i3 प्रचलन में हैं जिसमे वास्तविक(physical) २ कोर और आभासी(virtual) २ कोर हैं जो आपको ४ कोर का आभास  कराते हैं.  
जरुरी नहीं हैं की ज्यादा कोर वाला प्रोसेसर लेने से आपको फायदा हो। बाकि दूसरी चीजे भी जरुरी हैं


२. रैम  : रैम वो मेमोरी हैं जो प्रोसेसर के नजदीकी संपर्क में होती हैं और प्रोसेसर अपनी काम की जानकारी इसी मेमोरी से उठता हैं. मतलब रैम जितनी जादा उतनी जादा जानकारी प्रोसेसर को कम समय में मिलेगी।  हम अक्सर सुनते हैं की अरे रैम बढ़ा लो आपकी स्पीड भी बढ़ जाएगी। ऐसा कुछ हद तक सही हैं पर अगर आपका प्रोसेसर कमजोर हो तो चाहे कितनी भी रैम ले लो कुछ नहीं होगा।  आजकल ४ जी बी चलन में हैं इतनी हो तो ठीक हैं वरना २ जीबी भी काफी हैं



३. कैश मेमोरी(CACHE) :  कैश(CACHE) मेमोरी वो मेमोरी होती हैं जो प्रोसेसर के अंदर या कभी कभी बाहर मगर नजदीक होती हों रैम से जानकारी मांगने के पहले प्रोसेसर उस जानकारी को कैश मेमोरी में तलाशता हैं और नहीं मिलने पर रैम के पास जाता हैं तो आप समझ गए होंगे की ये कितनी जरूरी हैं। क्युकी कैश मेमरी रैम से तेज होती हैं इसलिए ये छोटी होती हैं
४. मदर बोर्ड : मदर बोर्ड वो बोर्ड हैं जिसपर सारी प्रणालियाँ आपसमे जुडी होती हैं और ये किसी भी कंप्यूटर प्रणाली का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता हैं.  

motherboard


५. बैटरी : अगर आप लैपटॉप ले रहे हैं तो जाहिर हैं के आप उसको सफर में लेजाना चाहेंगे नकि उसे घर पर बिजली के बोर्ड से जोड़कर रखेंगे। इसमें ज्यादा सेल और ज्यादा mAh(मिली एम्पियर ऑवर) की होनी चाहिए। जितने ज्यादा mAh होगे उतनी ज्यादा देर तक बैटरी चलेगी।  एक लैपटॉप में बैटरी सबसे बड़ा किरदार निभाती हैं  वो ज्यादा देर तक चलनी चाहिए ।

laptop battery


६.ग्राफ़िक कार्ड : अगर आप लैपटॉप पर भारी भरकम गेम खेलना चाहते हैं तो आपके लैपटॉप में ग्राफ़िक कार्ड होना चाहिए। ये गेम को अच्छी तरह से चलता हैं। इसे जीबी में गिना जाता हैं.
७.हार्ड डिस्क :
८.स्क्रीन (Screen ) :जहां तक हो सके LED स्क्रीन लेने का प्रयास करे क्युकी ये कम बिजली की खपत करती हैं और पिक्चर क्वालिटी भी अच्छी दिखती हैं.
९. सलाह :मानता  हु की इंटरनेट हमें काफी जानकारी मुहिया कराता हैं पर किसी दोस्त से पूछना जो कप्यूटर की जानकारी रखता हो हमेशा अच्छी बात हैं.

१०.वजन :जाहिर हैं की लैपटॉप को आप पीठ पर ढोना नहीं चाहेंगे और उससे अपने कंधो की मालिश भी नहीं करवाना चाहेंगे। ध्यान रखे की लैपटॉप का वजन कम हो. हम लैपटॉप ले रहे हैं डेस्कटॉप नहीं.

अगर आपको लगता हैं की आज अपने कुछ नया सीखा हैं और आप अपने दोस्तों और अपनों को ये ज्ञान शेयर करना चाहते हैं तो पक्का शेयर करे. अगली बार कुछ नया लेकर आएंगे तब तक खुश रहे।